" "यहाँ दिए गए उत्पादन किसी भी विशिष्ट बीमारी के निदान, उपचार, रोकथाम या इलाज के लिए नहीं है , यह उत्पाद सिर्फ और सिर्फ एक पौष्टिक पूरक के रूप में काम करती है !" These products are not intended to diagnose,treat,cure or prevent any diseases.

Jul 4, 2010

फॉरएवर फ्रीडम 2 गो ( स्वस्थ्य रहें, हमेशा )!!!


जब प्राकृतिक रूप से तैयार होने वाले घटक जैसे ग्लुकोसोमिन सल्फेट, कॉन्ड्राइटिन सल्फेट और मिथाइल सल्फोनिल मीथेन ( एम एस एम ) का मेल ऐसे अद्भुत फलों के रस के आश्चर्यनक गुणों से होता है, जिन्हें उच्च ORAC ( ऑक्सिजन रेडिकल एब्जोर्बेंस कैपिसिटी ) होता है जैसे अनार, मैंगोस्टीन, रास्प बैरी, ब्लैक बेरी, ब्लूबेरी और अंगूर के तत्वों तो आपको मिलते है ऐसे लाभ------- जो आपने पहले न कभी देखे, न सुनो | फॉर एवर फ्रीडम २गो--- बढियां स्वाद युक्त बायो-अवेलेबल ( (जैबिक रूप से उपलब्ध) का अनोखा कॉकटोल और स्वाथ्य बेहतर बनाने वाला फ्रूट ज्यूस | जिसमे है स्टाबिलाइज्ड पेटेनटेड एलो वेरा जेल यानि 'मनुष्य के लिए इश्वर का सबसे अनमोल उपहार' क्यूंकि एलो भीतर तक समाकर सभी पोषक तत्वों का बढ़िया तरीके से अवशोषण करता है |

ग्लुकोसोमिन सल्फेट और कॉन्ड्राइटिन सल्फेट :-
सामान्यतया जब शरीर से आप कोई भी हलचल करते है तो हड्डियों के बिच मौजूद कार्टिलेज घिसने लगता है और हड्डियों का आकर बिगड़ने लगता है , लेकिन आराम की स्थित में यह वापस सामान्य आकर में आ जाती है यदि ग्लुकोसोमिन का स्तर कम हो जाता है, तो इसके पुनः ठीक होने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है ऐसा माना जाता है कि कॉन्ड्राइटिन उत्तकों में तरल को भीतर खींचकर, कार्टिलेज को अधिक लचीला बनाता है और इन्हें हानिकारक एन्जाइम्स से सुरक्षित रखकर, कार्टिलेज की घिसावट को कम करता है |
जोडक तंतुओं के निर्माण के लिए आवश्यक घटक तैयार करने के अलाबा, कॉन्ड्राइटिन, कार्टिलेज को नष्ट करने वाले एंजाइम को रोक करके मौजूदा कार्टिलेज को समय से पहले नुक्सान पहुँचने से भी सुरक्षित रख सकता है |
ग्लुकोसोमिन सल्फेट और कॉन्ड्राइटिन सल्फेट का मिला जुला उपयोग करने पर यह " सिनर्जीस्टिक" ( सह क्रियात्मक प्रभाव दिखता है |


अनार :- विटामिन ए सी और इ के अलावा फोलिक एसिड का उत्कृष्ट माध्यम है पालीफिनौल्स, टैनिन्स और एंथो सियनिन्स -- ये सभी लाभदायक एंटीऑक्सीडेन्ट्स
है और ये इस फल में भरपूर मात्रा में पे जाते है | यह कहा जाता है की इनमे एंटीऑक्सीडेन्ट्स गुण, " रेड वाइन " और ग्रीन टी, से भी अधिक होते है |

मैंगोस्टीन (Mangosteen) :- " फलों का राजा " कहलाने वाले यह फल एक उत्कृष्ट फल के रूप में भी जाना जाता है और उत्कृष्ट पोषक तत्वों भी होते है | मांगोस्टीन" के प्राथमिक सक्रीय घटक को जेंथोंस कहते है , जो कई तरह से लाभदायक है | ये सुजन रोधी, एलर्जी रोधी असर दिखने के अलावा, ऐंठन रोधी प्रभाव भी दिखाते है |

रैस्पबेरी ( Raspberry) :- यह एन्थोसियानिंस का उत्कृष्ट स्त्रोत है जो शक्तिशाली एंटीओक्सिडेंट होने के अलावा फलों का उनका गहरा रंग देते है |
ये उम्र के ढलते असर को कम कर सकते है , कैंसर की रोकथाम में मदद कर सकते है और ह्रदय की बिमारियों का जोखिम भी कम कर सकते है |
एंटीओक्सिडेंट की विशिष्ट शक्ति के कारण रैस्पबेरी को फलों में सबसे उच्च स्थान पर रखा जा सकता है |

ब्लैकबेरी ( Blackberry) :- ये असरकारक फ्री रेडिकल की सफाई का काम करता है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते है | इस फल में कई सूक्ष्म पोषक तत्व होते है, जैसे फाइबर की अधिक मात्रा, कार्बोहायड्रेट्स, पॉलीअन्सैचुरैटेड वसा और प्रोटीन के अलावा, उच्च सूक्ष्म पोषक तत्व जैसे विटामिन, एंटीओक्सिडेंटस और मिनरल्स ये खास तौर पर विटामिन ए, पोटेशियम और कैल्सियम का उत्कृष्ट माध्यम है |

ब्लूबेरी ( Blueberry) :- एंटीओक्सीडेंटस फायटोन्यूट्रीयंट्रस यानि एंथोसियानीडीनस से समृद्ध ब्लूबेरी, कोशिकाओं एवं उत्तकों के कोलाजन मैट्रिक्स को पहुँचने वाले फ्री रेडिकल्स के नुकसान को बेअसर बनाते है | एन्थोसियानिन्स, ब्लू-रेड पिगमेंट, यह ब्लुबेरिज में पाया जाता है, जो शिराओं एवं सम्पूर्ण रक्तवाहिनी प्रणाली में आधार संरचना की अखंडता बेहतर बना सकता है |

अंगूर के बीजों के सत्व (Grape Seed Extracts) :- अंगूर के बीजों के सत्व में इनेक स्वाथ्यवर्धक गुण होते है जैसे प्रोटीन, वसा, कार्बोहायड्रेटस और पॉलीफेनौल्स, फ्लेवोनाइड्स एक ऐसा पौध रसायन है, जो अपनी उच्च एंटीओक्सिडेंटस शक्ति के लिए जाना जाता है और इसीलिए यह शरीर को ओक्सीडेटिव एवं फ्री रेडिकलस के नुक्सान से सुरक्षित रखता है |
यह माना जाता है की पॉलीफेनौल्स की एंटीओक्सिडेंट शक्ति विटामिन ई से २० गुना और विटामिन सी से ५० गुना अधिक होती है |


अब आप कल्पना कीजिये की यदि आपके शरीर को पोषक तत्वों के रूप में इन अलग-अलग और अद्भुत फलों के गुण मिलते रहे तो क्या हो || फॉर एवर फ्रीडम२गो ने अब इन्हें आपके लिए बिलकुल आसान बना दिया है ---- बस उठाइये , खोलिए और पी जाइए इस स्वादिष्ट ड्रिंक को | कहने की जरुरत नहीं की आपकी दैनिक खुराक को एक बहुत ही आकर्षक, लाने-ले-जाने में आसान पाउच पैक में किया गया है |

पिने का तरीका :- पिने से पहले पाउच को अच्छी तरह हिलाएं, हर दीन एक या दो बार, हो सकें तो भोजन के पहले एक पाउच ले, अगर बच जाये तो फ्रीज में रख दें, लेकिन ध्यान रहे बेहतर परिणाम के लिए घंटे के भीतर इस्तेमाल कर ले |

यह उत्पाद गठिया रोग से प्रभावित मरीजों के लिए आशा की नई किरण है | जो भी इस रोग से पीड़ित हो इस पाउच रूपी ड्रिंक का सेवन करें और निजात पाए ऐसे लाइलाज रोगों से |

एलोवेरा के कोई भी स्वास्थ्यवर्धक उत्पाद 15 % छूट पर खरीदने के लिए admin@aloe-veragel.com पर संपर्क करें और ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें
"एलोवेरा " ब्लॉग ट्रैफिक के लिए भी है खुराक |
अरे.. दगाबाज थारी बतियाँ कह दूंगी !

2 comments

Udan Tashtari July 5, 2010 at 6:36 AM

धन्यवाद!

Ratan Singh Shekhawat July 5, 2010 at 6:59 AM

बढ़िया जानकारी

Post a Comment