" "यहाँ दिए गए उत्पादन किसी भी विशिष्ट बीमारी के निदान, उपचार, रोकथाम या इलाज के लिए नहीं है , यह उत्पाद सिर्फ और सिर्फ एक पौष्टिक पूरक के रूप में काम करती है !" These products are not intended to diagnose,treat,cure or prevent any diseases.

Jun 12, 2010

"रसोई गैस सिलेंडर" की एक्सपायरी डेट जरुर देखें ( सावधानी हटी दुर्घटना घटी )

आज एक बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी समाचार पत्र के माध्यम से जानने का अवसर मिला | दरअसल सुबह-सुबह कार्यालय के काम से फरीदाबाद गया था |एक मित्र ने जाते ही मुझे कहने लगा- रामबाबू जी आपके लिए आज एक बहुत ही खास खबर है, और इसके बारे में लोगों को जरुर जानकारी दें | उसके बाद उसने मुझे दैनिक जागरण का समाचार पत्र सामने रख दिया | शीर्षक देखकर एक बार मन में बेचैनी सी आ गई और मैं अपना कार्य को स्थगन कर तुरंत अपने घर वापस आ गया | रसोई घर में सबसे पहले मैं रसोई गैस सिलेंडर का निरक्षण किया फिर जाकर दिल को तसल्ली मिली | शीर्षक था " सावधान, आपके घर में बम तो नहीं " |

अपने घर का गैस सिलेंडर को मैंने तो सही तरीके से निरक्षण कर लिया है | क्या आपने निरक्षण कर लिया ? अगर नहीं तो तुरंत जाँच लें की आपके घर का सिलेंडर एक्सपायरी डेट के अन्दर है या डेट ख़त्म हो चूका है ? सबसे पहले तो आप यह समझ ले की रसोई गैस सिलेंडर की भी एक्सपायरी तिथि होती है | और इस तरह से एक्सपायरी तिथि के बाद के सिलेंडर घर के लिए बहुत ज्यादा खतरनाक होते है और कभी भी बम की तरह फट सकते है | आपके थोड़ी सी साबधानी एक बड़े दुर्घटना होने से बचा सकते है |

चुकी आज कल के भागम-भाग व व्यस्त जिन्दगी में ऐसे विषय के बारे में ध्यान देने के लिए लोगों के पास वक्त ही नहीं होता है | हमलोग जानकारी के आभाव और परेशानी से बचने के लिए इस ओर बिलकुल ध्यान ही नहीं देते है | ज्यादा से ज्यादा हमारी नजर वजन और सील के ऊपर इंगित रहता है | पर सिलेंडर की एक्सपायरी डेट की जानकारी नहीं होने के कारण एलपीजी आपूर्ति करने वाली कंपनी फायदा उठा लेती है | आजकल तिथि पार कर चुकी सिलेंडर रिफिल होकर धरल्ले से घरों में पहुंचाई जा रही है |

आए दिन कोई न कोई दुर्घटना गैस सिलेंडर के फटने के कारण होते रहते है | कुछ महिना पहले भी एक नहीं दो हादसा पानीपत गैस सिलेंडर लिक होने के कारण हुए |अगर उपभोक्ता इसके प्रति जागरूक होते तो शायद इस तरह के हदशा से बचा जा सकता था | अतः हमें इसके बारे में जागरूक होनी चाहिए और अपनी जानकारी औरों के साथ भी बांटनी चाहिए ताकि इस तरह के हादशा की पुर्नावृति भविष्य में न हो |

एक्सपायरी डेट का पता इस तरह से लगा सकते है :-- सिलेंडर के उपरी हिस्सा जो पकड़ने के लिए सर्किल बना होता है | इसके निचे तिन पट्टियों में से एक पर काले पेंट से कोड में सिलेंडर की " एक्सपायरी डेट " अंकित होती है |

इसमें ए, बी, सी, या दी अंकित होते है और उसके साथ दो नंबर लिखे होते है | साल की पहली तिमाही ( जनवरी, फरवरी व मार्च ), बी साल की दूसरी तिमाही ( अप्रैल, मई व जून ), सी साल की तीसरी तिमाही ( जुलाई, अगस्त व सितम्बर ), और डी साल की चौथी तिमाही ( अक्टूबर, नवम्बर व दिसंबर ) को दर्शाता है | जबकि अंक वर्ष को दर्शाते है |कृपया ऊपर के दोनों तस्वीर को ध्यान से देखें |
यानि यदि सिलेंडर पर " बी 07" कोड अंकित है तो इसका मतलब है की सिलेंडर का एक्सपायरी समय जून 2007 है | इसके बाद इस सिलेंडर का रसोई घर में होना एक जीता-जगता बम से कम नहीं आंकना चाहिए |अतः हमें इस तरह के सिलेंडर लेने से बचना चाहिए |

सिलेंडर से हुए हादशे के बाद गैस कंपनी की तरफ से मुआवजा देने का भी प्रावधान है | इसमें उपभोक्ता को थर्ड पार्टी इंश्योरेंस कराया जाता है | इसके तहत हादशा होने पर उपभोक्ताओं को 10 लाख रुपैये तक की राशी प्रदान की जाती है | इसके लिए उपभोक्ता को तुरंत डीलर को सूचित करना चाहिए | डीलर वहां सर्वेयर को भेजकर सर्वे कराता है और उचित मुआवजा राशी प्रभावित उपभोक्ता को दी जाती है | पर एक बात का ध्यान रहे की अवैध रूप से इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ता को मुआवजा नहीं दिया जाता है |

एलोवेरा के कोई भी स्वास्थ्यवर्धक उत्पाद 15 % छूट पर खरीदने के लिए admin@aloe-veragel.com पर संपर्क करें और ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें
"एलोवेरा " ब्लॉग ट्रैफिक के लिए भी है खुराक |
अरे.. दगाबाज थारी बतियाँ कह दूंगी !

1 comments

kuldeep July 4, 2010 at 3:58 PM

thanks for good information

Post a Comment