" "यहाँ दिए गए उत्पादन किसी भी विशिष्ट बीमारी के निदान, उपचार, रोकथाम या इलाज के लिए नहीं है , यह उत्पाद सिर्फ और सिर्फ एक पौष्टिक पूरक के रूप में काम करती है !" These products are not intended to diagnose,treat,cure or prevent any diseases.

Apr 11, 2010

मिलावटी खाद्य पदार्थ सेहत से खिलवाड़ |


आज बाजार में बिक रही हर चीज में मिलावट है , दालें,अनाज,दूध,घी से लेकर सब्जी और फल तक कोई भी चीज मिलावट से अछूती नहीं है |
ये मिलावट इतनी बारीकी से की जाती है कि मूल खाद्य पदार्थ तथा मिलावट वाले खाद्य पदार्थ में भेद करना काफी मुश्किल हो जाता है |मिलावट युक्त खाद्य पदार्थ का उपयोग करने से शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है तथा शरीर में विकार उत्पन्न होने कि आशंका बढ़ जाती है |
आमतौर पर प्रतिदिन इस्तेमाल किए जाने वाले अनाज भी हानिकारक रसायनों के प्रभाव से अछूते नहीं है , हर अनाज में कुछ प्रतिशत रसायन जरूर रहता है |

विगत कुछ दिन फरीदाबाद के समाचार पत्र के मुख्य शीर्षक था " मसालों का गरबरझाला" | अलग-अलग जगह से वो मसालों का नमूना लिए थे और जब उसे प्रयोगशाला में जाँच किया गया तो उसमे तकरीवन 60 प्रतिशत मसाला में कुछ न कुछ मिलावट पाया गया |
दरअसल उन मुनाफखोड़ों /मिलावट करने वाले को ये नहीं पता है जो वे दुसरे लोगों के लिए बेच रहे है वो उनके सगे-सम्बंधित भी खा कर अपनी जान मुसीबत में डाल रहा होगा |
वे लोग इस तरह से मिलावटी खाद्य पदार्थ को परोसकर लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे है | ऐसे लोगों के खिलाफ सरकार को सख्त कदम उठानी चाहिए जो खुलेआम लोगों के साथ धोखाधड़ी कर रहे है |

किसी भी खाद्यपदार्थ में कोई रासायनिक या बाहरी अन्य चीज मिलाने से उसकी गुणवता में कमी आ जाती है ,तो उस खाद्य पदार्थ को मिलावटयुक्त पदार्थ कहा जाता है |
जैसे दूध में पानी या यूरिया मिलकर बेचना ,मसलों में बुरादा रंग अदि मिलाना इस प्रकार के मिलावटी पदार्थ में पोषक तत्व नष्ट हो जाते है | कभी-कभी अनुचित तरीके से संग्रहित किये गए भोज्य पदार्थ से पोषक तत्व नष्ट हो जाते है |

कई ऐसे खाद्य सामग्री है जिसे बनाते समय कपडा धोने वाले सोडे का प्रयोग किया जाता है | इस प्रकार का सोडायुक्त सामग्री पाचन तंत्र और रक्तचाप के लिए नुकसानप्रद है |
इस प्रकार तुरंत मिलावटी आंटा, दाल बड़ा, दही बड़ा, गुलाब जामुन, ढोकला आदि बनाए जाते है | आता के साथ अलग पुडिया में उसकी चटनी और मसाला होता है | इसमें मनमानी मिलावट की गई होती है इस प्रकार की सामग्री सेहत के लिए अत्यंत हानिकारक होती है |

फलों को जल्दी पकाने के लिए पेस्टी साइड्स का इस्तेमाल ,सब्जियों को जल्दी उगाने और बढाने के लिए रसायनों का दुस्प्रभाव भी शरीर पर पड़ता है | सरकारी और गैर सरकारी संगठनों के तमाम प्रयासों के बावजूद खानपान के सामन में मिलावट आम बात हो गई है |

खाद्य पदार्थ व मिलावटी सामग्री-------------
मिर्च पाउडर -------- इसमें लाल रंग व भूसा तथा ईट और बालू का चूर्ण मिलाया जाता है | इसकी जांच के लिए एक ग्लास पानी में एक चम्मच मिर्च पाउडर मिलाये |
अगर पानी का रंग लाल हो जाता है तो यह मिलावटी समझे | इसमें ईट या बालू का चूर्ण होगा तो सतह में इकठ्ठा हो जायेगा | कई बार लाल मिर्च पाउडर में रोडामाइन बी मिलाया जाता है | इससे यकृत,गुर्दे व तिल्ली प्रभावित होती है

आटा------------------ इसमें रेत, चॉक पाउडर अदि मिलाया जाता है | अगर आटा गूंधने में पानी अधिक लगता हो ,रोटियां अच्छी तरह फूलती है और स्वाद मीठा हो तो शुद्ध है |

चना और अरहर की दाल ----- दालों में प्रायः खेसारी दाल की मिलावट की जाती है | खेसारी दाल में एक विशेष प्रकार के जहरीला रसायन होता है | इसके सेवन से स्नायु कमजोर पड़ जाते है | पाचन तंत्र प्रभावित होता है गुर्दे में पथरी होने की आशंका रहती है |

विभिन्न मसाले -------- विभिन्न मसालों में कंकड़ ,पत्थर ,रेत, मिटटी, लकड़ी का बुरादा अदि मिलकर बेचे जाते है | इससे आहार तंत्र के रोग आंत और दांत प्रभावित होते है |

चायपती----------- इसमें कृत्रिम रंग , लौह चूर्ण तथा प्रयोग हो चुकी चाय की पतियों,का पाउडर मिलाया जाता है | इससे आहार तंत्र और पाचनतंत्र प्रभावित होता है |

काली मिर्च----------------- इसमें पपीते के बीजों का मिश्रण किया जाता है |

दूध -------- दूध में सफ़ेद रंग, पानी, यूरिया, वाशिंग पाउडर, आदि मिलकर बेचा जाता है | दूध में मिले यूरिया से किडनी फेल हो सकती है |

शहद ------------- शहद में गुड़, अथवा खांड की चाशनी ,तथा शक्कर की मिलावट की जाती है |

मावा - ,शुद्ध घी,खाद्य तेल,हल्दी,कॉफ़ी जीरा इत्यादि सब में कुछ न कुछ मिलावट किया जाता है |

मसाला या खाद्य पदार्थ खरीदते समय ब्रांडेड,और भरोसेमंद दुकान का चुनाव करनी चाहिए |


एलोवेरा के कोई भी स्वास्थ्यवर्धक उत्पाद खरीदने के लिए admin@aloe-veragel.com पर संपर्क करें और ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

"एलोवेरा " ब्लॉग ट्रैफिक के लिए भी है खुराक | Gyan Darpan ज्ञान दर्पण
ताऊ .इन

1 comments

Ratan Singh Shekhawat April 11, 2010 at 12:40 PM

आम जनता क्या करें ? बिना मिलावट का सामान बाजार में मिलता ही कहाँ है ?

Post a Comment